रोग निवारण में ज्योतिष का महत्व

ज्योतिष ‘‘विज्ञान’’ एवं ‘‘अध्यात्म’’ का मित्र या ‘मिश्रित’ रूप है। रोग के क्षेत्र में चिकित्सा विज्ञान के साथ ही ज्योतिष विज्ञान के ग्रह एवं नक्षत्रों की भी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। भारतीय ज्योतिष शास्त्र में नौ ग्रहों के लिए नौ रंग एवं नौ रत्नों की प्राथमिकता प्रमाणित है। ग्रहों की प्रतिकूल स्थिति उत्पन्न होने से…

जन्म दशा से जुड़ा पंचम, नवम व द्वादश भावों का संबंध

हिंदू ज्योतिष कर्म तथा पुनर्जन्म के सिद्धांत पर आधारित है। यह तथ्य प्रायः सभी ज्योतिषी तथा ज्ञानीजन अच्छी तरह से जानते हैं। मनुष्य जन्म लेते ही पूर्व जन्म के परिणामों को भोगने लगता है। जैसे फल फूल बिना किसी प्रेरणा के अपने आप बढ़ते हैं उसी तरह पूर्वजन्म के हमारे कर्मफल हमें मिलते रहते हैं।…

आजीविका में गुरू का प्रभाव

गुरू को सत्वगुणी ग्रह माना जाता है. यह ज्ञान व भाग्य का प्राकृति स्वामी ग्रह माना जाता है. ज्योतिषशास्त्र में इसे धन का कारक भी कहा गया है. आजीविका का सम्बन्ध धन व आय से होता है. इस लिहाज से गुरू का सम्बन्ध आजीविका स्थान यानी दसवें घर से होने पर शुभ फलदायी माना जाता…

कुंडली में रुचक योग

मंगल अपनी उच्च राशि, मूल त्रिकोण अथवा स्वराशि में होने पर रूचक योग का निर्माण करता है.ज्योतिषशास्त्र में पंच महापुरूष नामक योग के अन्तर्गत इस योग का उल्लेख किया गया है. मेष लग्न में रूचक योग – मेष लग्न का स्वामी मंगल कुण्डली में दशम भाव में उच्च राशि मकर में स्थित होता है तो…

कुंडली में शनि राहु का संबंध

राहु का नाम केतु के साथ लिया जाता है परंतु इन दोनों ग्रहों में जितना विभेद है उतनी ही समानता राहु एवं शनि में है. शनि और राहु इन दोनों ग्रहों को पाप ग्रह के रूप में माना जाता है. ज्योतिषशास्त्र में शनि और राहु को एक विचार एवं गुणों वाला भी माना गया है….

विदेश में नौकरी एवं आजीविका का साधन

विदेश में नौकरी एवं आजीविका की चाहत आज के युवाओं की पहली पसंद बन गई है. ऊँची डिग्रियां लेने के बाद ख्वाहिश यही होती है कि वह विदेश जाकर खूब कमाएं. लेकिन, विदेश जाने का अवसर मिलेगा अथवा नहीं यह आपकी किस्मत पर निर्भर करता है. ज्योतिषशास्त्र के अनुसार व्यक्ति की कुण्डली में ग्रहों की…

क्या आपकी सफलता में सहायक होगा अच्छे गुरू का साथ

किसी भी व्यक्ति के जीवन में शिक्षा ग्रहण करने से लेकर जीवन में सफलता प्राप्त करने तक एक गुरू का होना आवष्यक है। मार्गदर्षन हेतु गुरू का साथ महत्वपूर्ण होता है। कहा जाता है कि प्रथम गुरू माता होती है जोकि संसार से परिचित कराती है उसी प्रकार जीवन में यष व उन्नति प्राप्ति हेतु…

Pisces monthly horoscope for April 2017

It is a long haul for you in April, dear Pisces. There is toil and tasks written for a good part of the month. Saturn posited in the Tenth House will make you realize that there is no substitute for hard work and labor if you wish to be in the forefront. Luckily, influence of…

Aquarius monthly horoscope for April 2017

 Challenges and adversities will dot April, but there will be good times too. Isn’t life always like that! At the beginning of April, your road to progress may seem strewn with stumbling blocks and impediments. This could be a trying time for you. Around Tuesday, dear Venus reenters its Sign of exaltation, dual natured watery…

Capricon monthly horoscope for April 2017

Remain cautious in April, Capricorns. The month will start with a certain amount of anxiety. All does not seem hunky dory in a confirmed relationship. You will be distracted and unable to express what is on your mind. It is Venus that will come to your rescue and clam your nerves as it becomes exalted…