जानें कैसे किसी भी परिस्थिति पर कोई ग्रह प्रभावित करता है

मानसागरी में लिखा है – ललाट पहे लिखिता विधाता, षष्ठी दिने याऽक्षर मालिका च। ताम् जन्मत्री प्रकटीं विधत्तो, दीपो यथा वस्तु धनान्धकारे। (मान सागरी) अर्थात् ईश्वर ने भाग्य में जो लिख दिया, उसे भोगना ही पड़ता है। जन्मपत्री के अध्ययन से इस बात का आसानी से पता चल जाता है कि उसने पूर्व जन्म में…

क्या उत्तम मुहूर्त से क्या उत्तम चरित्र का निर्माण हो सकता है…..

हमारे लिए यह बड़े दुर्भाग्य की बात है कि पश्चिमी सभ्यता के अंधानुकरण में हम अपनी मूल संस्कृति से इतने दूर जा रहे हैं कि हमारे समाज में पति-पत्नी जैसे पवित्र संबंधं का भी महत्व नहीं रह गया है। प्रिंट मीडिया के कई सर्वेक्षणों से यह बात उभरकर सामने आई है कि आज हमारे समाज…

पद उपपद और अर्गला के आधार पर ज्योतिष्य फलकथन

लग्नकुंडली के आधार पर की गई भविष्यवाणी मिथ्या हो जाती है, जिसके निराकरण हेतु महर्षि पराशर ने षड्वर्ग की व्यवस्था की। जब कोई फल लग्नकुंडली के साथ-साथ षड्वर्ग कुंडली से भी प्रकट होता है, तो उसके मिथ्या होने की संभावना कम होती है और वह समय की कसौटी पर खरा उतरता है। इसी उद्देश्य की…

साप्ताहिक राशिफल 29 अगस्त से 04 सितंबर 2016

मेष राशि- सप्ताह के पूर्वार्ध में अस्वस्थता रहेगी, विषेशकर एलर्जी व घुटने के दर्द से परेशान रह सकते हैं. शरीर में निर्बलता और मानसिक अशांति बनी रहेगी. सट्टे, शेयर मार्केट से यथा संभव दूरी बनाए रखें अन्यथा हानि का सामना करना पड सकता है. माता का स्वास्थ्य तनाव दे सकता है. जहां तक हो सके…

साप्ताहिक राशिफल 22-28 अगस्त 2016

मेष — इस सप्ताह में मेष राशि वालो को स्वयं के कार्यो पर पुर्नविचार करते हुए कदम बढ़ाना होगा क्योकि किए गए कार्यो पर विवाद हो सकता है। कुछेक निर्णयों में देरी हो सकती है। खर्च की अधिकता होती रहेगी जिसके कारण क्रोध बढ़ेगा। परिवार के लिए प्रतिकूल वातावरण बनेगा। जमीन के कार्यों में हानि…